Registered by Govt. of Tamilnadu Under act, 1975, SL No. 280/2015
Registered by Govt. of India Act XXI 1860, Regn SEI 1115

  • इस वर्ष का पंचगव्य चिकित्सा महासम्मेलन कर्णाटक प्रान्त स्थित बैंग्लोर सिटी स्थित आर्ट ऑफ़ लिविंग के मुख्य कार्यालय परिसर में 1 -2 -3 दिसम्बर माह में आयोजित किया गया है| समय प्रातः 5 बजे से रात्रि 9 बजे तक पंजीकरण शुल्क 1100 रुपए मात्र, भोजन एवं निवास के लिए अलग से सम्पर्क करें- गव्यसिद्ध डॉ. भारती  9916025881, गव्यसिद्ध प्रदीप आसन 9019252427, गव्यसिद्ध तेजस्वनी एस.8310967840

  • प्रादेशिक संगठन

  • पंचगव्य विचार (Poll) 18:05:23

    भारत में पंचगव्य सहित कई पारंपरिक चिकित्सा उच्चकोटि के हैं लेकिन सरकारें इनकी वैद्द्यता पर प्रश्न चिन्ह लगा कर रखा है, ऐसी पारंपरिक विद्द्या को पुर्णतः स्थापित करना होगा. – वैद्द्य महासभा, केरल

    View Results

    Loading ... Loading ...
  • सूचना

  • सभी थेरेपी के डॉक्टर, वैद्द्य, थेरेपिस्ट आदि के लिए उपयोगी पाठ्यक्रम
    (1) एडवांस पंचगव्य थेरेपी – 1 वर्ष का पाठ्यक्रम एवं 1 वर्ष का अभ्यासक्रम
    (2) इंटीग्रेटेड पंचगव्य थेरेपी – 1.5 वर्ष का पाठ्यक्रम एवं 1 वर्ष का अभ्यासक्रम
    (3) गर्भशुद्धि-गर्भधारण-प्रसूति व बालपालन थेरेपी – 5 दिवस
    (4) विशेषज्ञ कोर्स – हृदय, कैंसर, अर्थरेटिक्स, टीबी, चर्मरोग, माइग्रेन, पुरुष बाँझपन, नारी बाँझपण, बाल रोग, सिकल सेल, फस्टएड, हड्डी, डायबीटीक्स. – 3 दिवस
    भारत में पहली बार सभी भारतीये भाषाओं में पंचगव्य चिकित्सा विज्ञान (गऊमाँ के गव्यों) की आधिकारिक पढाई. पंचगव्य अब एक सम्पूर्ण चिकित्सा थेरेपी. हमारा नारा है
  • आन्दोलन से जुड़ें

  • Poll Archive

    भारत में पंचगव्य सहित कई पारंपरिक चिकित्सा उच्चकोटि के हैं लेकिन सरकारें इनकी वैद्द्यता पर प्रश्न चिन्ह लगा कर रखा है, ऐसी पारंपरिक विद्द्या को पुर्णतः स्थापित करना होगा. – वैद्द्य महासभा, केरल

    • सहमत हैं (99%, 165 Votes)
    • सहमत नहीं हैं (1%, 2 Votes)

    Total Voters: 167

    Start Date: May 18, 2023 @ 10:30 am
    End Date: No Expiry